ALL Sports Gadgets and Technology Automobile State news International news Business Health Education National news
पांच साल से ऊपर के बच्चों का आधार कार्ड अब स्कूल में बन सकेगें
February 22, 2020 • मुख्य संपादक राजीव मैथ्यू

पांच साल से ऊपर के बच्चों का आधार कार्ड अब केवल स्कूल द्वारा सत्यापित आई कार्ड के आधार पर भी बनाया जा सकेगा।

सेवा भारत टाइम्म ब्यूरो 

आधार सेवा केंद्र के मैनेजर आदित्य शुक्ला ने बताया कि यूआइडीएआइ की ओर से बच्चों को बड़ी रियायत दी गई है। पांच साल से ऊपर के बच्चों का आधार कार्ड अब केवल स्कूल द्वारा सत्यापित आई कार्ड के आधार पर भी बनाया जा सकेगा। लेकिन आइडी कार्ड में आधार कार्ड बनाने के लिए जरूरी जानकारियां पूरी होनी चाहिए। जिसमें बच्चे की फोटो, अभिभावकों का नाम, पता और मोबाइल नंबर सबसे महत्वपूर्ण है। आदित्य ने बताया कि यूआइडीएआइ की ओर से पांच और 15 साल का होने के बाद बच्चों के आधार कार्ड में फिंगरप्रिंट, पता, मोबाइल नंबर और फोटो अपडेट करना अनिवार्य कर दिया गया है 
आदित्य ने बताया कि पांच और 15 साल की उम्र पर आधार में डाटा अपडेट करने के लिए कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा, लेकिन इसके बाद 50 रुपये शुल्क चुकाना होगा। आधार के नाम पर बाजार में लूट बाजार में साइबर कैफे आधार बनाने से लेकर गलतियां सुधारने की मोटी फीस वसूल रहे हैं। साइबर कैफे में केवल आधार बनवाने के लिए 100 रुपये से लेकर 150 रुपये तक वसूले जा रहे हैं, जबकि सरकारी आधार सेवा केंद्रों में यह काम मात्र तीस रुपये में हो जाता है। आधार सेवा केंद्र के ऑपरेशन मैनेजर आदित्य शुक्ला ने आम लोगों को निजी साइबर कैफे की लूट से बचने की सलाह दी हैं।