ALL Sports Gadgets and Technology Automobile State news International news Business Health Education National news
मा० मुख्यमंत्री ने किया बीस सूत्री कार्यक्रम प्रगति पुस्तिका का विमोचन
November 10, 2019 • मुख्य संपादक राजीव मैन्यू • State news

मा0 मुख्यमंत्री ने किया बीस सूत्री कार्यक्रम प्रगति पुस्तिका का विमोचन ।

देहरादून। उत्तराखण्ड में 09 नवम्बर 2019 को राज्य स्थापना दिवस के शुभ अवसर पर परेड ग्राउंड देहरादून में आयोजित समारोह के अवसर पर मुख्य अतिथि, मा0 रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह जी की उपस्थिति में बीस सूत्री कार्यक्रम प्रगति पुस्तिका वर्ष 2018-19 का विमोचन मा0 मुख्यमंत्री जी उत्तराखण्ड के कर कमलों द्वारा किया गया।

इस अवसर पर मा0 मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ0 रमेश पोखरियाल 'निशंक', मा0 विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रेमचन्द्र अग्रवाल एवं मा0 सांसद एवं प्रदेश अध्यक्ष भारतीय जनता पार्टी, श्री अजय भट्ट के साथ-साथ प्रदेश के मा0 मंत्रीगण, मा0 विधायकगण व बीस सूत्री कार्यक्रम एवं कार्यान्वयन समिति के मा0 उपाध्यक्ष (कैबिनेट स्तर) श्री नरेश बंसल जी भी मौजूद थे।

प्रकाशित प्रगति पुस्तिका में चयनित 25 योजनाओं की जनपदवार/कार्यक्रमवार रैंकिंग की गयी है। रैंकिंग के अनुसार जनपद हरिद्वार ने प्रथम पिथौरागढ़ ने द्वितीय तथा बागेश्वर एवं उधमसिंह नगर द्वारा तृतीय स्थान प्राप्त किया। रैंकिंग में आच्छादित कुल 25 मदों में से वर्ष 2018-19 में 18 मदों 'ए' श्रेणी, 4 मदों में 'बी', 2 मदों में 'सी' तथा 1 मद में 'डी' श्रेणी प्राप्त की है। योजनाओं का लाभ आम जनमानस तक पहुँचाये जाने के उद्देश्य से बीस सूत्री कार्यक्रम पूर्ण रूप से प्रयासरत एवं कृत संकल्प है।

मा0 मुख्यमंत्री जी के निर्देशन में बीस सूत्री कार्यक्रम की योजनाओं के सफल कार्यान्वयन हेतु राज्य स्तरीय, जनपद स्तरीय तथा विकास खण्ड स्तरीय समितियों का गठन किया गया है। सभी जनपदों में जनपदीय बीस सूत्री कार्यक्रम समिति के अन्तर्गत उपाध्यक्ष व सदस्य नामित किए गए है जिनकी कुल संख्या-258 है।

त्रिस्तरीय समिति में नामित महानुभावों की निगरानी में सरकार द्वारा संचालित योजनाओं के कार्यान्वयन को ठोस एवं सार्थक रूप से संचालित करने का अनवरत प्रयास किया जा रहा है। उक्त रैकिंग मदों के अतिरिक्त भारत सरकार के प्राथमिकता वाले योजनाओं यथा- अटल उत्तराखण्ड आयुष्मान योजना, सौभाग्य योजना, जनधन योजना, कौशल विकास, उज्जवला योजना, मृदा स्वास्थ्य प्रबन्धन, ई-नाम, फसल बीमा योजना, मुद्रा योजना व किसानों की आय को दुगना करने के प्रयासों तथा सतत् विकास लक्ष्य के संबंध में भी अनुश्रवण करने हेतु सभी जनपदों व विकासखण्डों में बैठकों का आयोजन व स्थलीय निरीक्षण किया जाना प्रस्तावित है। मा0 मुख्यमंत्री जी तथा मा0 उपाध्यक्ष जी द्वारा प्रगति पुस्तिका के सफल प्रकाशन तथा राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर सभी प्रदेश को सभी प्रदेश वासियों को शुभकामनायें दी