ALL Sports Gadgets and Technology Automobile State news International news Business Health Education National news
लैंडर विक्रम
October 16, 2019 • मुख्य संपादक राजीव मैथ्यू

 क्या हाल है चन्द्रमा पर विक्रम का

 

सेवा भारत टाइम्स ब्यूरो 

भारतीय अंतरिक्ष वैज्ञानिक और चंद्रयान-2 के प्रशंसक इसी दिन का इंतजार कर रहे थे। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी ने लैंडर विक्रम के बारे में कोई सूचना देने की उम्मीद जताई है, क्योंकि उसका लूनर रिनेसॉ ऑर्बिटर मंगलवार को उसी जगह के ऊपर से गुजरेगा, जहां पर भारतीय लैंडर विक्रम के गिरने की संभावना जताई गई है।अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी  (नैशनल ऐरोनॉटिक्स ऐंड स्पेस ऐडमिनिस्ट्रेशन) के पास जल्द ही इस सवाल का जवाब होगा कि विक्रम लैंडर मिल पाएगा या नहीं। इससे पहले, के एक अधिकारी ने न्यू यॉर्क में को बताया था कि उनका ऑर्बिटर 14 अक्टूबर को उस जगह के ऊपर से गुजरेगा, जहां विक्रम का ग्राउंड स्टेशन से संपर्क टूटा था।अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी ने इससे पहले कहा था कि उसका एलआरओ 17 सितंबर को विक्रम की लैंडिंग साइट से गुजरा था और उस क्षेत्र की हाई-रिजॉलून तस्वीरें पाई थीं। नासा ने कहा है कि लूनर रिनेसॉ ऑर्बिटर कैमरा(एलआरओसी) की टीम को हालांकि लैंडर की स्थिति या तस्वीर नहीं मिल सकी थी। नासा ने तब कहा था,  श्जब लैंडिंग क्षेत्र से हमारा ऑर्बिटर गुजरा तो वहां धुंधलका था और इसलिए छाया में अधिकांश भाग छिप गया। संभव है कि विक्रम लैंडर परछाई में छिपा हुआ है। एलआरओ जब अक्टूबर में वहां से गुजरेगा, तब वहां रोशनी अनुकूल होगी और एक बार फिर लैंडर की स्थिति या तस्वीर लेने की कोशिश की जाएगी।