ALL Sports Gadgets and Technology Automobile State news International news Business Health Education National news
जिंदगी चुनो, तंबाकू नहीं" जरुर : पढ़े
November 19, 2019 • मुख्य संपादक राजीव मैथ्यू

जिंदगी चुनो, तंबाकू नहीं"।

राष्ट्रीय तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत जनपद स्तर पर गठित तंबाकू नियंत्रण प्रकोष्ठ की स्टीयरिंग समिति की कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक आयोजित की गई

सेवा भारत टाइम्स ब्यूरो

देहरादून । 19 नवंबर 2019. "जिंदगी चुनो, तंबाकू नहीं"। जिलाधिकारी C. रविशंकर की अध्यक्षता में राष्ट्रीय तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत जनपद स्तर पर गठित तंबाकू नियंत्रण प्रकोष्ठ की स्टीयरिंग समिति की कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक आयोजित की गईl बैठक में जिला सलाहकार तंबाकू नियंत्रण प्रकोष्ठ अर्चना उनियाल द्वारा प्रेजेंटेशन के माध्यम से कोटपा ( सिगरेट और अन्य तंबाकू उत्पाद, विज्ञापन का प्रतिबंध और व्यापार तथा वाणिज्य, उत्पादन, प्रदाय और वितरण का विनियमन) अधिनियम 2003 की धाराओं के अंतर्गत सार्वजनिक स्थलों पर उल्लंघन करने पर किए गए चालान और टीम द्वारा की गई कार्रवाई के साथ ही विभिन्न क्षेत्रों में तथा विद्यालय में किए गए प्रचार- प्रसार और आगामी प्रशिक्षण और आगामी किए जाने वाले प्रयासों के बारे में विस्तार से अवगत कराया गया l

जिलाधिकारी ने जनपद प्रकोष्ठ से जुड़े चिकित्सा, पुलिस, नारकोटिक्स, आबकारी, खाद्य सुरक्षा, राष्ट्रीय क्राइम ब्यूरो (एनसीबी) इत्यादि विभागों को सम्मिलित रूप से जनपद में स्थित खाद्य, किराना, मेडिकल स्टोर, रेस्टोरेंट, पान मसाला की दुकानों ढाबों- हुक्काबार इत्यादि सभी जगह लगातार औचक निरीक्षण करते हुए तंबाकू तथा किसी प्रकार की अनधिकृत नशायुक्त सामग्री को जब्त करते हुए जुर्माना तथा संगत धाराओं के अंतर्गत कठोर कार्रवाई करते हुए कृत कार्रवाई की एक्शन टेकन रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिएl साथ ही सभी विभागों द्वारा इस संबंध में पूर्व में किए गए अपने विभागीय कार्यो की प्रगति रिपोर्ट 1 सप्ताह में प्रेषित करने के निर्देश दिएl उन्होंने जिला पंचायत राज अधिकारी एम जफर खान को नवनिर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों के शपथ ग्रहण तथा ग्राम सभा की खुली बैठक में तंबाकू नशामुक्ति की शपथ दिलवाने के निर्देश दिए, साथ ही विकासखंड की 6 ग्राम पंचायतों का चयन करते हुए जनपद प्रकोष्ठ के सहयोग से पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर करिकुलम बनाते हुए तंबाकू व नशामुक्ति का प्रशिक्षण और जन जागरूकता कार्यक्रम आयोजित करने तथा उसके पश्चात सभी विकासखंडों के प्रत्येक गांव में इसी तरह नशामुक्ति अभियान को आगे चलाने के निर्देश दिएl। उन्होंने नगर निगम को भी इसी तरह पहले 1 वार्ड का चयन करने तत्पश्चात सभी वार्ड को धीरे-धीरे तंबाकू मुक्त बनाने के प्रयास करने के निर्देश दिएl जिलाधिकारी ने शिक्षा विभाग को स्कूली बच्चों को नशामुक्ति का संकल्प दिलवाने और परिसर में तंबाकू के दुष्परिणाम संबंधित पोस्टर/ बोर्ड चस्पा करने जिस पर विद्यालय परिसर के 100 गज के भीतर नशा प्रतिबंधित संदेश चस्पा करने के निर्देश दिएl उन्होंने जिला समन्वयक को शिक्षा व पंचायतराज विभाग और आंगनवाड़ी केंद्रों और सरकारी कार्यालय सहित सार्वजनिक स्थलों पर पब्लिक के संज्ञान हेतु एक स्टैंडर्ड साइज का साइनबोर्ड लगाने तथा वॉल पेंटिंग के माध्यम से पब्लिक के बीच तंबाकू और नशा मुक्ति का प्रचार- प्रसार करने के निर्देश दिएl

जिलाधिकारी द्वारा जनपद में नशामुक्ति के विरुद्ध प्रभावी कार्यवाही करने हेतु संबंधित क्षेत्रों के उप जिलाधिकारियों को तथा ऋषिकेश को पूरी तरह से तंबाकू मुक्त करने को नोडल अधिकारी नामित किया गयाl उन्होंने पान मसाले के साथ तंबाकू की बिक्री रोकने हेतु उसके सैंपल लेते हुए जांच और कार्रवाई करने और विभागों द्वारा नशामुक्ति के संबंध में प्राप्त सुझावों और अनुभवों को भी संज्ञान लेते हुए कार्रवाई करने के निर्देश दिएl इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी गिरधारी सिंह रावत ने जिला समन्वयक प्रकोष्ठ को निर्देश दिए कि प्रचार- प्रसार की सामग्री स्टैंडर्ड डिजाइन में सभी विभागों के पास पहुंच जाए और प्रगति रिपोर्ट का विवरण भी तय फार्म प्राप्त कर लिया जाए। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व वीर सिंह बुद्धियाल, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ मीनाक्षी जोशी, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी उत्तम चौहान सहित स्टीयरिंग कमेटी के अन्य सदस्य उपस्थित थे।