ALL Sports Gadgets and Technology Automobile State news International news Business Health Education National news
एफडी है तो इन बातों का ध्यान रहे :जरुर पढ़े
October 18, 2019 • मुख्य संपादक राजीव मैथ्यू

बैंक में फिक्स्ड डिपॉजिट करा रखा है तो इन बातों का रखें ध्यान

सेवा भारत टाइम्स ब्यूरो 

देहरादून। आजकल लोगों में छोटी बचत योजनाओं को लेकर आकर्षण बढ़ रहा है और निवेशक जानते हैं कि इस समय स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स में उन्हें बढ़िया रिटर्न मिल रहा है। एफडी या फिक्स्ड डिपॉजिट भी इसी तरह का ही एक निवेश विकल्प है जिसमें आप एक निश्चित अवधि के लिए अपनी रकम रख सकते हैं और मैच्योरिटी के समय शानदार रिटर्न पा सकते हैं। क्या जानते हैं कि एफडी पर मिलने वाला रिटर्न टैक्स कटौती के दायरे में आता है। यहां पर आपको एफडी से जुड़ी इसी तरह की कई अन्य खासियतों के बारे में बताया जाएगा जिससे आप इस निवेश विकल्प से और अधिक परिचित हो सकें।
एफडी के रिटर्न पर आपको टैक्स देना पड़ता है और अगर साल भर में 10 हजार से ज्यादा एफडी का ब्याज मिल रहा है तो आपको 10 फीसदी की दर से टैक्स देना होगा।

अगर आपने किसी तयशुदा अवधि के लिए एफडी की है तो इसके पूरा होने से पहले आप एफडी से पैसा नहीं निकाल सकते हैं। अगर आप एफडी से पैसा निकालना चाहते हैं तो आपको इसके लिए जुर्माना अदा करना पड़ता है।
अन्य स्कीम के मुकाबले एफडी पर ज्यादा ब्याज भी मिलता है और इसमें किया गया निवेश सुरक्षित भी होता है।
एफडी दो तरह के होते हैं जिनमें क्यूमलेटिव एफडी और गैर क्यूमलेटिव एफडी के तहत ब्याज का फायदा लिया जा सकता है। इसमें तिमाही-छमाही और सालाना आधार पर ब्याज का फायदा लिया जा सकता है। इसके अलावा आप नियमित अंतराल पर भी ब्याज का ऑप्शन ले सकते हैं यानी मासिक तौर पर भी ब्याज लेने का विकल्प अपना सकते हैं।
एफडी के ऊपर शेयर बाजार के उतार-चढ़ाव का कोई असर नहीं होता है और आपकी निवेश की गई राशि पूरी तरह सुरक्षित होती है। एफडी को इसीलिए सबसे सुरक्षित निवेश विकल्पों में से एक माना जाता है।

इसके अलावा टैक्स सेविंग एफडी भी होती है जिनमें निवेश करके आप इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80सी के तहत टैक्स छूट का फायदा ले सकते हैं। आप साल भर में 1.5 लाख रुपये तक का निवेश टैक्स सेविंग एफडी में कर सकते हैं और इस पर टैक्स छूट हासिल कर सकते हैं। इनमें 5 साल का लॉक इन पीरियड होता है और इनका ब्याज टैक्सेबल होता है। इनमें 5.5 फीसदी से लेकर 7.75 फीसदी तक का ब्याज आपको अलग-अलग प्लान में मिल सकता है।
एफडी के निवेश पर आपको अच्छा खासा रिटर्न भी मिलता है और ये निवेश विकल्प आसान भी है। इसके अलावा इसमें लगाया गया पैसा भी आपको अच्छे ब्याज के साथ वापस मिलता है।