ALL Sports Gadgets and Technology Automobile State news International news Business Health Education National news
आशारोड़ी चैकपोस्ट पर इंडिका कार से नशे के इंजेक्शनों की खेप बरामद
November 8, 2019 • मुख्य संपादक राजीव मैथ्यू

स्पेशल टास्क फोर्स ने बड़ी मात्रा में नशीले इंजेक्शनों की खेप पकड़ी 

सहारनपुर से लाई जा रही नशीले इंजेक्शनों की खेप पकड़ी।

 

(फोटो :- प्रतीकत्मक चित्र )

सेवा भारत टाइम्स ब्यूरो 

देहरादून l स्पेशल  एंटी ड्रग टास्क फोर्स ने परचून कारोबारी की कार से सहारनपुर से लाई जा रही नशीले इंजेक्शनों की खेप पकड़ी। डीआईजी एसटीएफ रिद्धिम अग्रवाल के निर्देशानुसार सीओ एसटीएफ ने देर रात आशारोड़ी बैरियर से इंडिका कार यूके 07 एटी 0038 से नशे के इंजेक्शनों की खेप पकड़ी है। पूछताछ में कार चालक ने अपना नाम महेंद्र सिंह उर्फ सोनू सरदार निवासी विंग नंबर एक प्रेमनगर बताया। उसकी प्रेमनगर में ही परचून की दुकान है। इस दुकान की आड़ में नशे के इंजेक्शन बेचने का काम करता है।  वह सहारनपुर में रहमान नाम के तस्कर से 100 रुपये में एक इंजेक्शन खरीदता है। इस इंजेक्शन को वह छात्र-छात्राओं, युवाओं को 400-500 रुपये में बेचता है। इसके अलावा सरकारी अस्पताल के ओएसटी सेंटर में नशे की आदत का इलाज कराने वाले लोगों से संपर्क कर उन्हें भी इंजेक्शन बेचता है। आरोपित के मुताबिक, वह प्रेमनगर में दिलीप उर्फ टिक्की, सुमित, अंकित, अजय को इंजेक्शन सप्लाई करता था।  पुलिस पूछताछ के आधार पर रहमान समेत पांचों आरोपितों की तलाश में जुट गई है। पुलिस ने कार को सीज कर दिया है। वहीं सामने आया है कि सोनू सरदार का क्राइम रिकार्ड भी है। उसके खिलाफ एनडीपीएस समेत पांच मुकदमे दर्ज हैं। टीम की कामयाबी पर डीआईजी रिद्धिम अग्रवाल ने ढाई हजार रुपये नकद पुरस्कार देने की घोषणा की है।