ALL Sports Gadgets and Technology Automobile State news International news Business Health Education National news
हॉर्न बजाने पर युवक को उतारा मौत के घाट
September 2, 2019 • सेवा भारत टाइम्स

हॉर्न बजाने पर युवक को उतारा मौत के घाट

                                         

(फोटो-2: युवक का शव, प्रतीकात्मक चित्र)

सेवा भारत टाइम्स ब्यूरो 

रुद्रपुर। ऊधमसिंह नगर स्थित रूद्रपुर में कोतवाली क्षेत्र के रंपुरा में रविवार देर शाम हॉर्न बजाने को लेकर हुए विवाद में बाइक सवार युवक की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई। वारदात के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए। घटना के वक्त युवक बड़े भाई के साथ बाइक पर काम से लौट रहा था। हत्या के बाद क्षेत्र में सनसनी फैल गई। पुलिस ने हमले के आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए संभावित जगहों में दबिशें दी हैं। हत्या के तीनों आरोपी सगे भाई बताए जा रहे हैं। समाचार लिखे जाने तक मामले में मुकदमा दर्ज नहीं हो पाया था।

जानकारी के अनुसार रंपुरा वार्ड 22 निवासी प्रेम कश्यप (19) पुत्र बाबूराम बड़े भाई रिंकू के साथ सिब्बल सिनेमा मार्ग स्थित फर्नीचर के शोरूम में कारपेंटर का काम करता था। रविवार देर शाम दोनों भाई काम खत्म करने के बाद बाइक से घर लौट रहे थे। बाइक रिंकू चला रहा था। रंपुरा में प्रवेश करते हुए गली में साइड मांगने के लिए रिंकू ने जैसे ही हॉर्न बजाया वहां खड़े नशे में धुत उनके पड़ोसी तीन युवक गाली गलौज पर उतर आए और मारपीट करने लगे।

तीनों ने बाइक में पीछे बैठे प्रेम से लकड़ी की फंटिया छीनकर दोनों भाइयों को पीट कर उनकी बाइक छीन ली। दोनों भाई जख्मी हालत में घर पहुंचे। कुछ देर बाद दोनों भाई बाइक लेने के लिए मौके पर पहुंचे तो तीनों ने उन्हें घेरकर धारदार हथियारों से हमला कर दिया। सिर पर गंभीर चोट लगने से प्रेम की मौके पर ही मौत हो गई। वारदात के बाद तीनों आरोपी भाग निकले। परिजन प्रेम के जिंदा होने की उम्मीद में उसे जिला अस्पताल लेकर पहुंचे जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। 

सूचना पर एसपी सिटी देवेंद्र पींचा व एसपी क्राइम प्रमोद कुमार ने जिला अस्पताल पहुंचकर परिजनों से घटना के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कोतवाली पुलिस की टीमें गठित कर आरोपियों की तलाश में लगा दी। एसपी सिटी ने बताया कि मामला पुरानी रंजिश से जुड़ा हुआ नहीं है। परिजनों ने पुलिस को पड़ोस में रहने वाले तीन भाइयों के नाम बताए हैं। हॉर्न बजाने के विवाद में ही प्रेम की हत्या की गई है। आरोपियों की तलाश की जा रही है। 

घटना के बाद एक आरोपी पुलिस कार्रवाई से बचने के लिए मेडिकल कराने के लिए जिला अस्पताल पहुंचा था, लेकिन पुलिस को देखकर वह फरार हो गया। कुछ लोगों का कहना था कि आरोपियों में से एक भाई की कुछ दिन पहले रिंकू के साथ कहासुनी हुई थी।

उधर, पंकज की मौत के बाद परिवार में कोहराम मच गया। बेटे की मौत के बाद सदमे में आई मां भगवान देई रोते-रोते बेहोश हो गई। पिता का भी रो-रोकर बुरा हाल था। मृतक प्रेम पांच भाई-बहन में सबसे छोटा था। पिता पल्लेदारी का काम करते हैं।