ALL Sports Gadgets and Technology Automobile State news International news Business Health Education National news
महिला चिकित्सालय में आशा -घर बनाया गया
September 21, 2019 • seva bharat times

महिला चिकित्सालय में आशा कार्यकत्रियों के लिए आशा घर बनाया गया

(फोटो: -फीता काटकरआशा घर का शुभारम्भ करते हुए जिलाधिकारी श्री सविन बंसल)

हल्द्वानी l  21 सितम्बर 2019 (सूचना)- जिलाधिकारी श्री सविन बंसल के निर्देशों पर महिला चिकित्सालय बेस में बनाये गये आशा घर का शुभारम्भ फीता काटकर जिलाधिकारी श्री बंसल द्वारा शनिवार को किया गया। महिला चिकित्सालय में पुराने चिकित्सालय भवन में मरम्मत एवं जीर्णोद्वार कर आशा घर बनाया गया है। 

इसके उपरान्त आशा कार्यकत्रियों को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी श्री बसंल नेे कहा कि आशा कार्यकत्रियो को अकसर गर्भवती महिलाओं को टीकाकरण कराने व संस्थागत प्रसव कराने ,जच्चा -बच्चा को देखने व अन्य कार्यो हेतु चिकित्सालय में आना पड़ता है व चिकित्सालय में रूकना पड़ता है। संस्थागत प्रसव हेतु आशाओं के देर-सवेर आने पर उनकी सुरक्षा को देखते हुऐ महिला चिकित्सालय में आशा कार्यकत्रियों के लिए आशा -घर बनाया गया है ताकि आशा कार्यकत्रियों को किसी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पडे़। उन्होने कहा कि जनपद के सभी महिला चिकित्सालयों मे आशा-घर शीघ्र बनाये

जाएंगे  जिलाधिकारी ने कहा कि आशा व एएनएम स्वास्थ विभाग की रीढ़ एवं अभिन्न अंग है। स्वास्थ विभाग द्वारा चलाये जा रहे कार्यक्रमों के संचालन मे आशा, कार्यकत्रियों की अहम भूमिका होती है। इसलिए आशाओं को सुविधा देना हमारा दायित्व है। उन्होने कहा कि आशाओं का मानदेय व अन्य क्लेम समय से दिया जायेगा तथा आशाओं की सुविधा हेतु आनलाइन पोर्टल बनवाया जा रहा है जिसमें आशा कार्यकत्रियां अपने बिल व भुगतान देख सकेंगी, जिससे आशाओं को अपने भुगतान की जानकारियां प्राप्त होगी तथा भुगतान प्रणाली में पारदर्शिता भी आयेगी। 

जिलाधिकारी श्री बंसल ने कहा कि आशा कार्यकत्रियां की स्वास्थ विभाग के सभी कार्यक्रमों के संचालन मे अहम भूमिका होती है, इसलिए सभी आशा अपने दायित्वो व कर्तव्यों का संजीदगी से निर्वहन करें व जनता को स्वास्थ लाभ पहुचायें। जिलाधिकारी ने सभी आशा कार्यकत्रियों से कहा कि गर्भवती महिलाओं एवं जच्चा-बच्चा का निर्धारित समय पर जाॅच एवं टीकाकरण कराने के साथ ही शतप्रतिशत संस्थागत प्रसव कराना सुनिश्चित करें ताकि मातृ-शिशु मृत्युदर को शून्य स्तर पर लाया जा सकें।
कार्यक्रम मे अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 रश्मि पन्त ने सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए आशा कार्यकत्रियों से कहा कि वे स्वास्थ विभाग के अभिन्न अंग है इसलिए क्षेत्रों मे जाकर स्वास्थ सुविधायें, कार्यक्रमों का प्रचार-प्रसार करें व पूरी तन्मयता से जनता की सेवा करें। 


इसके उपरान्त जिलाधिकारी श्री बंसल ने महिला चिकित्सालय बेस का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने ऑपरेशन  
कार्यक्रम व निरीक्षण में मुख्य चिकित्सा अधीक्षिका डाॅ.भागीरथी जोशी, सिटी मजिस्ट्रेट प्रत्यूष सिंह, उप जिलाधिकारी विवेक राॅय, सीओ डीसी ढौडियाल, के अलावा डाॅ.कल्पना, मेटर्न मंजू केड़ा, अनीता वर्मा सहित आशा कार्यकत्रियां मौजद थी।