ALL Sports Gadgets and Technology Automobile State news International news Business Health Education National news
छात्रवृत्ति घोटाला
September 26, 2019 • मुख्य संपादक राजीव मैथ्यू

करोडो के छात्रवृत्ति घोटाले में बैंक भी शामिल : होगी कार्यवाही

(फोटो :- प्रतिकात्मक चित्र )

सेवा भारत टाइम्स ब्यूरो 

देहरादून। संजय गुंज्याल पुलिस महानिरीक्षक, पी0एम0 उत्तराखण्ड, ने बताया कि माननीय उच्च न्यायालय, नैनीताल के आदेशानुसार समाज कल्याण विभाग द्वारा वितरित की गयी एस0सी0/एस0टी0/ ओ0बी0सी0 दशमोत्तर छात्रवृत्ति वितरण में हुई अनियमितता/शिकायत पर की जॉच हेतु गठित एस0आई0टी0 द्वारा जनपद ऊधमसिंह नगर ,नैनीताल एवं टिहरी गढ़वाल में सम्बन्धित शिक्षण संस्थानों, बैंकों एवं सम्मिलित व्यक्तियों के विरुद्ध अभियोग पंजीकृत किये गये हैं।


जनपद ऊधमसिंह नगर में जॉच टीमों द्वारा जसपुर तथा बाजपुर क्षेत्रान्तर्गत जाकर जॉच की गयी और छात्रों का भौतिक सत्यापन किया गया तो पाया कि कतिपय छात्रों को स्थानीय दलालों द्वारा 1- दूसरी योजना का लाभ दिलाने हेतु  2- पूर्व में अध्ययनरत रहे कक्षा की छात्रवृत्ति दिलाने हेतु उनसे शैक्षिक, जाति, स्थाई निवास प्रमाण पत्र एवं उनके पिता का आय प्रमाण पत्र प्राप्त कर शैक्षणिक संस्थानों के स्वामियों के साथ मिलकर समाज कल्याण विभाग से छात्रवृत्ति प्राप्त की 3- समान्य वर्ग के छात्रों को एस0सी0एस0टी0 एवं ओ0बी0सी0 वर्ग में दिखाकर  4- छात्रों का शैक्षणिक संस्थानों में फर्जी दाखिला दिखाकर छात्रवृत्ति प्राप्त की। 5-छात्रवृत्ति लाभार्थी सूची में अंकित कतिपय  छात्रों का पता तस्दीक नहीं हुआ।

बाजपुर क्षेत्र के दलालों द्वारा ऋषि इंस्टीट्टयूट आफ इंजिनयरिंग एण्ड टेक्नोलॉजी प्रतापपुर मेरठ में स्थानीय छात्रों का उक्त संस्थान में दाखिला फर्जी दस्तावेज तैयार कर व फर्जी खाते खोलकर छात्रवृत्ति प्राप्त की गयी है।उक्त कार्य से दलालों शैक्षणिक संस्थान स्वामी तथा बैंक की सांठ गॉठ पायी गयी।जसपुर क्षेत्र में भी स्थानीय दलालों द्वारा ब्राईटलैण्ड कॉलेज रेवाडी हरियाणा में स्थानीय छात्रों का दाखिला फर्जी दस्तावेज तैयार कर व फर्जी खाते खोलकर छात्रवृत्ति प्राप्त की गयी है। शिक्षण संस्थानों ऋषि इंस्टीट्टयूट आफ इंजिनयरिंग एण्ड टेक्नोलॉजी प्रतापपुर मेरठ तथा बा्रईटलैण्ड काॅलेज रेवाडी हरियाणा एंव सम्मिलित दलालों के विरूद्व थाना बाजपुर एवं थाना जसपुर में अभियोग पंजीकृत किया जा रहा है तथा अन्य शैक्षणिक संस्थानों एवं दलालों एवं बैको के विरुद्ध जाँच की जा रही है।


जनपद नैनीताल में की गई जॉच के दौरान ज्ञात हुआ कि उत्तर प्रदेश के हापुड स्थित मोनाड यूनिवर्सिटी को जिला समाज कल्याण अधिकारी नैनीताल के कार्यालय से 28 छात्रों की छात्रवृत्ति कुल रू0 20,63,900/- के चैक प्रेषित किये गये थे। एस0आई0टी0 द्वारा इन छात्रवृत्ति के लाभार्थियों की सूची को भौतिक रूप से सत्यापित किया गया तो किसी भी लाभार्थी द्वारा उक्त संस्थान में शिक्षा ग्रहण करना एवं उक्त छात्रवृत्ति प्राप्त किया जाना नही पाया गया, हापुड में स्थित इण्डियन ओवरसीज बैंक की शाखा में कभी खाता न खोलना और न ही किसी प्रकार की दशमोत्तर छात्रवृत्ति प्राप्त करना पाया गया।

इस प्रकार प्रकरण में वर्ष 2014-15 में उप निबन्धक, मोनाड यूनिवर्सिटी हापुड व उसके विचैलियों तथा अन्य के द्वारा इण्डियन ओवरसीज बैंक शाखा हापुड के कर्मचारियों/अन्य सम्बन्धित अधिकारियों के साथ अपराधिक षडयंत्र करते हुये कूटरचित दस्तावेज तैयार व प्रयोग कर सरकारी धन को अवैध रूप से प्राप्त किया गया। अतः प्रकरण में उचित धाराओं के अन्तर्गत अभियोग पंजीकृत कर विवेचनात्मक कार्यवाही की जा रही है। जनपद टिहरी गढ़वाल में थाना चम्बा क्षेत्रान्तर्गत अन्नपूर्णा फूड क्राफ्ट  इन्स्टीट्य़ूट ऑफ मैनेजमेन्ट (एएफसीआई) द्वारा की गयी अनियमित्ताओं के कारण सरकारी धन का दुर्विनियोग /गबन किये जाने के सम्बन्ध में अभियोग पंजीकृत कराया गया है।