ALL Sports Gadgets and Technology Automobile State news International news Business Health Education National news
उत्तरकाशमें क्रैश हुआ राहत और बचाव कार्य में लगा हैलीकॉप्टर
August 21, 2019 • seva bharath times

उत्तरकाशी में क्रैश हुआ राहत और बचाव कार्य में लगा हैलीकॉप्टर l 

 

         

                                          (फोटो : दुर्घटनाग्रस्त हैलीकॉप्टर का मलबा)

 

posted by seva bharath times on 21/08/2019 

देहरादून। उत्तराखंड में  एक के बाद एक दुर्घटनाओं की खबरें सामने आ थी हैं। हादसों के इसी सिलसिले में बुधवार को एक और दुखद खबर सामने आयी।
प्राप्त ताज़ा जानकारी के अनुसार उत्तरकाशी के आराकोट में राहत सामग्री पहुंचा कर लौट रहा एक हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया है। जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई है।

बता दें कि 17 अगस्त की रात उत्तरकाशी के आराकोट गांव में बादल फटने के बाद तबाही मच गई थी। जानकारी के मुताबिक उक्त हेलीकॉप्टर आराकोट में राहत सामग्री वितरित कर वापस लौट रहा था।
इसी दौरान वह कृषि उत्पादों को लाने के लिए बनाए गए रोपवे की तारों से उलझकर पहाड़ी से टकराया और क्रैश हो गया।

हेलीकॉप्टर में पायलट रंजीव लाल, को-पायलट सैलेश और एक स्थानीय वालंटियर राजपाल राणा सवार थे। हेलीकॉप्टर हैरिटेज कंपनी का है और मोल्डी में क्रैश हुआ है।
राहत-बचाव कार्य के लिए आराकोट से बचाव दल के साथ एक हेलीकॉप्टर हादसे वाली जगह भेज दिया गया है। सूचना पर उत्तरकाशी जिला प्रशासन की टीम मौके के लिए रवाना हो गई।
मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस घटन पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए कहा कि 'उत्तरकाशी के आपदा प्रभावित क्षेत्रों में राहत सामग्री ले जा रहे हेलीकॉप्टर के दुर्घटनाग्रस्त होने की खबर दुःखद है। ईश्वर से मृतात्माओं की शांति व उनके परिजनों को धैर्य प्रदान करने की प्रार्थना करता हूं।'
मुख्यमंत्री ने कहा कि हेलीकॉप्टर हादसे में मृतकों को 15-15 लाख रुपए का मुआवजा दिया जाएगा। फिलहाल हेली ऑपरेशन रोक दिया गया है। शवों को जहां परिजन कहेंगे पहुंचा दिया जाएगा।
वहीं मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने कहा कि मोल्डी गांव के पास हेलीकॉप्टर क्रैश हुआ है जो आपदा राहत सामग्री छोड़ने के बाद वापस आराकोट आ रहा था। हादसे में तीन लोगों के मौत की सूचना मिल रही है। टीम मौके पर पहुंच चुकी है।